U.P. Web News
|
|
|
|
|
|
|
|
|
     
   News  
 

   

Home>News 
बुद्ध जयंतीः भक्तों ने श्रद्धा-सुमन अर्पित कर किया नमन्
Tags: Fatehpur News
News source: U.P.Samachar sewa
Publised on : 06 May 2012, Time: 19:56
फतेहपुर, 06 मई। डा. भीमराव अम्बेडकर शिक्षा सदन आबूनगर के प्रांगण में गौतम बुद्ध जयंती समारोह का आयोजन किया गया। सर्वप्रथम उपस्थित लोगो ने भगवान तथागत गौतम बुद्ध के चित्र पर माल्यार्पण करने के बाद उनकी स्तुति की। साथ ही वक्ताओं ने बुद्ध के पंचशील सिद्धांतों पर प्रकाश डाला। वहीं डा. बाबा साहब अम्बेडकर भारत मिशन की जिला शाखा ने कलेक्ट्रेट स्थित बुद्धा पार्क में भगवान बुद्ध की जयंती धूमधाम से मनायी। उधर अन्तर राष्ट्रीय बौद्ध महासभा द्वारा मुराइनटोला मंडी समिति के निकट भगवान बुद्ध का जन्मोत्सव बुद्धत्व प्राप्त एवं परिनिर्वाण दिवस मनाया गया।
भगवान गौतम बुद्ध जयंती समारोह का आयोजन छंगूलाल की अध्यक्षता में किया गया। समारोह में आरपी मौर्य, राजबहादुर पाल, अरूण कुमार, केदार, अजुर्न, राजेश्वरी बाजपेयी, सुमन देवी, हेमराज वर्मा, शत्रुघन, हरीपाल सिंह, हीरालाल, ब्रम्हदत्त मौर्य, सुरेश सिंह, ओमप्रकाश, कृष्ण, जीएल मौर्य आदि ने भगवान तथागत गौतम बुद्ध को पुष्पांजलि अर्पित करते हुए नमन किया। वहीं आयोजित भंडारे में सभी ने सामूहिक भोज भी किया। अन्तर राष्ट्रीय बौद्ध महासभा द्वारा आयोजित बैशाख पूर्णिमा पर्व पर वक्ताओं ने भगवान बुद्ध के जन्म एवं परिनिर्वाण तथा ज्ञान का बोध होने की तिथि का बखान करते हुए कहा कि महामानव तथागत गौतम बुद्ध को इसी तिथि को ज्ञान, जन्म एवं मृत्यु प्राप्त हुई थी। उन्होने आम जनमानस को दुःख से मुक्त करने एवं मानव जीवन में ही सुख की अनुभूति का मार्ग दिखाया था। वक्ताओं मे बाबूलाल मौर्य, टीएन तिवारी, रामप्रकाश प्रजापति, राजकुमार तिलक, कालिका प्रसाद शास्त्री, भंते गजानंद, भंते विजयानंद, देवीगुलाम कुशवाहा सहित अन्य लोगो ने भगवान बुद्ध के धर्म को वैज्ञानिक धर्म बताया।
इसी तरह से डा. बाबा साहब अम्बेडकर मिशन भारत की जिला शाखा के तत्वाधान में तथागत भगवान बुद्ध की जयंती कलेक्ट्रेट स्थित बुद्धा पार्क में मोमबत्ती जलाकर धूमधाम से मनायी गयी। मिशन के जिला सचेतक रमेश बौद्ध ने भगवान बुद्ध को पुष्पांजलि अर्पित करते हुए कहा कि जिस समय भगवान बुद्ध का जन्म हुआ। उस समय कमजोर व वंचितों का शोषण व उत्पीड़न हो रहा था एवं सामंतवादी ताकतें चरम पर थी। जाति, द्वेष, हिंसा का बोलबाला था। भगवान बुद्ध को पुष्प अर्पित करते हुए अतुल कुमार ने कहा कि वह राजघराने में पैदा होने के बावजूद समस्त सुखों का त्याग कर सत्य, अहिंसा एवं भाईचारे का आदर्श मार्ग ढूंढ निकाला। जिससे समस्त विश्व और मानव समाज लाभान्वित हुआ।
भंजे विजयानंद एवं गजानंद ने भगवान बुद्ध की वंदना प्रस्तुत की और त्रिशरण पंचशील के साथ भगवान बुद्ध की पूजा अर्चना कर श्रद्धा सुमन अर्पित किये। मिशन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराज ने भगवान बुद्ध के विचारों को जन-जन तक पहुंचाने पर जोर दिया। राममनोहर ने भगवान तथागत को पुष्प अर्पित कर अपने विचारो से माहौल को बौद्धमय बनाते हुए कहा कि भगवान बुद्ध महान मानवतावादी ने जहां भारतीय इतिहास को सत्यपरक ज्ञान से सुशोषित किया। वहीं अपने जीवन में सामाजिक विकृतियांे से समझौता नही किया। भानु प्रकाश ने तथागत को पुष्प अर्पित करते हुए कहा कि भगवान बुद्ध ने कहा था कि अत्तदीपो भव अर्थात अपना प्रकाश स्वयं बनकर स्वयं ऊपर उठो। इस मौके पर रामप्रकाश, चन्द्रपाल गौतम, राजकुमार तिलक, सुरेश राही, वर्षा सिंह, मृत्युंजय सिंह, बाबू सिंह, राकेश मौर्य आदि रहे।
अनियंत्रित ट्रैक्टर पलटा, दो की मौत
फतेहपुर, 06 मई। उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले के जाफरगंज थाना क्षेत्र के चिरई मोड़ के समीप अनियंत्रित होकर ट्रैक्टर ट्राली पलट जाने से जहां एक सात वर्षीय बालक की मौके पर दर्दनाक मौत हो गयी। वहीं आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गये। जिन्हें उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। जहां चिकित्सको ने एक किशोरी को मृत घोषित कर दिया।
पुलिस के अनुसार जाफरगंज थाने के अन्र्तगत तेलहन बाबा मंदिर में हर वर्ष की तरह इस साल भी मेला लगा है। जिसमें मंसूरपुर कटरा गांव निवासी जवाहर लाल की तीस वर्षीय पत्नी शांती देवी, विजय बहादुर की पच्चीस वर्षीय पत्नी रमा, बच्छराज की पच्चीस वर्षीय पत्नी ललिता देवी, छोटेलाल की सत्रह वर्षीय पुत्री गुड़िया, महावीर का सत्रह वर्षीय पुत्र रामदीन, शिवदास की चैदह वर्षीय पुत्री गुड़िया देवी, राजेश की पच्चीस वर्षीय पत्नी रामा देवी सहित डेढ़ दर्जन से अधिक महिलाएं व बच्चे तेलहन बाबा मंदिर मेला देखने जा रहे थे। जैसे ही यह लोग चिरई मोड़ के समीप पहुंचे तभी अनियंत्रित होकर ट्रैक्टर ट्राली पलट गयी। जिसके नीचे दबकर जगदीश का सात वर्षीय पुत्र सूरज की मौत हो गयी। जबकि ट्राली में बैठी आधा दर्जन महिलाएं घायल हो गयी। जिन्हें आनन-फानन उपचार के लिए जिला चिकित्सालय लाया गया। जहां चिकित्सको ने गुड़िया को मृत घोषित कर दिया। उधर सूचना पाकर पुलिस ने दोनो शवों का पंचनामा भर विच्छेदन गृह भेज दिया। बताते है कि ट्रैक्टर गांव के ही सोहनलाल चला रहा था। घटना के बाद वह मौके से फरार हो गया।

पिता ने डांटा तो किशोरी ने खाया जहर, मौत
फतेहपुर, 06 मई। खागा कोतवाली क्षेत्र के अमांव सलेमपुर में पिता की डांट से क्षुब्ध एक पन्द्रह वर्षीय किशोरी ने जहरीला पदार्थ खा लिया। जिसे अचेतावस्था में उपचार के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां देर रात उसकी मौत हो गयी।
जानकारी के अनुसार उक्त गांव निवासी रामकुमार की पत्नी ज्ञानमती एक माह पूर्व सड़क हादसे में घायल हो गयी थी। जिसके कारण वह चलने-फिरने से मजबूर थी। कल शाम जब उसे शौच लगी तो उसने अपनी पुत्री पूजा से चलने के लिए कहा तो उसने साफ इंकार कर दिया। इसी बात को लेकर पिता रामकुमार ने उसे काफी डांटा फटकारा। बस इसी बात से क्षुब्ध होकर उसने सल्फास की टिकिया खा ली। हालत बिगड़ जाने पर परिजन उसे आनन-फानन उपचार के लिए जिला चिकित्सालय मेंे भर्ती कराया। जहां देर रात लगभग साढे ग्यारह बजे उसे दम तोड़ दिया। सूचना पर पुलिस ने सदर अस्पताल मरचरी पहुंचकर शव को अपने कब्जे मे लेकर विच्छेदन गृह भेज दिया।

ट्रक चालक को लूटा
फतेहपुर, 06 मई। सदर कोतवाली क्षेत्र के पूर्वी बाईपास रोड किनारे बीती रात अज्ञात बदमाशों ने ट्रक चालक को घायल कर उसके पास रखी नकदी लूटकर फरार हो गये। घायल को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।
जानकारी के अनुसार बिहार प्रांत के जिला देवधर थाना कुंडा निवासी लक्ष्मी प्रसाद का पैंतीस वर्षीय पुत्र मनोज जो ट्रक चालक है। बीती रात वह जिला टाटा से ट्रैक नम्बर एनएल01जी@1169 में लोहा लादकर कानपुर आ रहा था। बताते है कि सदर कोतवाली के पूर्वी बाईपास के समीप अचानक पिछला पहिया पंचर हो गया। जिस पर वह उतरकर पहिया बदल रहा था। उसी समय तीन अज्ञात बदमाश आये और उसे लाठी डंडा व धारदार हथियार से मारकर घायल कर दिया तथा उसके पास रखे ग्यारह सौ रूपये व मोबाइल लूटकर फरार हो गये। घटना की जानकारी लगते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल चालक को उपचार के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया।

सपा जिलाध्यक्ष एवं महामंत्री का अभिनंदन समारोह
प्रदेश के मुख्यमंत्री का ऋणी रहेगा वैश्य समाज-डा. सुमंत गुप्त
फतेहपुर, 06 मई। वैश्य एकता परिषद द्वारा समाजवादी पार्टी के नव मनोनीत जिलाध्यक्ष रामेश्वर दयाल दयालू तथा महामंत्री सुरेन्द्र प्रताप सिंह यादव का अभिनंदन किया गया। स्वागत समारोह में फूलमाला पहनाने के साथ-साथ सपा के दोनो पदाधिकारियों को प्रतीक चिन्ह एवं शाल भी भेंट किया।
सरदार बल्लभ भाई पटेल प्रेक्षागृह में आयोजित अभिनंदन समारोह में वैश्य समाज के लोगो ने बढ-चढकर हिस्सा लिया। समारोह का शुभारंभ परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. सुमंत गुप्त एवं सपा जिलाध्यक्ष रामेश्वर दयाल दयालू ने दीप प्रज्जवलित एवं महात्मा गांधी व लौह पुरूष सरदार बल्लभ भाई पटेल तथा राम मनोहर लोहिया के चित्र पर पुष्प अर्पित कर किया। शुभारंभ के पश्चात् अभिनंदन कार्यक्रम में हरीओम रस्तोगी ने जिलाध्यक्ष को शाल पहनाकर स्वागत किया। पप्पन रस्तोगी एवं अमित शिवहरे ने प्रतीक चिन्ह भेंट किया। राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. सुमंत गुप्त ने कहा कि समाजवादी पार्टी ने जो सम्मान वैश्य समाज के व्यक्ति को जिलाध्यक्ष बनाकर दिया है। उसके लिए समाज मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का आभारी रहेगा और अवसर आने पर ब्याज सहित इस ऋण को समाज उतारेगा। उन्होने कहा कि प्रदेश में सपा को सत्ता प्राप्त कराने में वैश्य समाज का काफी योगदान रहा है।
सपा जिलाध्यक्ष श्री दयालू ने कहा कि वैश्य व व्यापारी के मान-सम्मान में सदैव समाजवादी पार्टी ने ध्यान रखा और सदैव हित में कार्य किये है। पार्टी ने समाज के लोगो के लिए धारा तीन@सात इंस्पेटक्टरराज की समाप्ति के साथ-साथ विभिन्न कार्य किये। उन्होने कहा कि समाज के मान-सम्मान के साथ किसी को खिलवाड़ नही करने दिया जाएगा। जिला महासचिव सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि वैश्य समाज ने जो सम्मान दिया है। वह वास्तव में अविष्मरणीय रहेगा। समाजवादी पार्टी की सोच सदैव व्यापारी एवं वैश्य के प्रति रही है। उन्होने समाज के लोगो का आहवान किया कि जिस प्रकार वैश्य समाज ने प्रदेश में सरकार बनवायी है। आगे आने वाले लोकसभा में भी इसी प्रकार का योगदान दें। इस मौके पर रामप्रसाद गुप्त, हीरालाल गुप्त, संजय गुप्त, अनिल अग्रवाल, सुनीता गुप्त, नरेश गुप्त, नंदकिशोर गुप्त, गुड्डू मोदनवाल, सौनक गुप्त, विपिन बिहारी शरन, धर्मेन्द्र साहू, अखिलेश अग्रवाल आदि मौजूद रहे। समारोह की अध्यक्षता वेदप्रकाश गुप्त एवं संचालन महामंत्री विनोद कुमार गुप्ता ने किया।

भगवान बुद्ध की शिक्षा से ही होगा विश्व का कल्याण
(राजकुमार तिलक)
फतेहपुर, 06 मई। भगवान तथागत सम्यक संम्बुद्ध ने दो हजार छह सौ पूर्व बिषमतावादी व्यवस्था का विरोध कर कायिक, वाचिक एवं मानसिक समता बनाये रखने की सीख प्रदान कर समतामूलक समाज की स्थापना की थी और भारत वर्ष को विश्व का धर्मगुरू बनाया था। यह वक्तव्य आज बुद्ध पूर्णिमा पर्व पत्रकार राजकुमार तिलक ने कही। उन्होने कहा कि संसार के सभी धर्मो में श्रद्धा को प्रथम प्राथमिकता प्रदान की गयी है। जबकि भगवान बुद्ध ने अनुभव को प्रथम प्राथमिकता प्रदान की है और श्रद्धा को अनुशांगिक बताया है। बुद्ध का मार्ग ज्ञान का मार्ग है। शील, समाधि और प्रज्ञा के जरिये मनुष्य अपने जीवन में ही परलौकिक सुख की अनुभूति कर लेता है।
भगवान बुद्ध ने सर्वजनीन धम्म का मार्ग बताकर सर्वजन का कल्याण किया। उन्होने सदाचार का अनुपालन कर इसी लोक में सुख और शांति की अनुभूति करने के गुर बताये । बुद्ध की शिक्षा से कायिक, वाचिक और मानसिक असमानता को दूर करने और विपश्यना के जरिये समताभाव पुष्ट करने का ज्ञान आज विश्व के तमाम विकसित देशों ने हासिल कर सामाजिक समरसता कायम किया है। धर्म मनुष्य के लिए है न कि मनुष्य धर्म के लिए। बुद्ध ने बतार्या कि श्रष्टि का विकास हुआ है न कि श्रष्टि का निर्माण। उन्होने कहा कि बिना सत्य का ज्ञान किये किसी भी वस्तु को स्वीकारना मूर्खता है। उन्होने प्रज्ञा (ज्ञान) को ताीन भागों में विभक्त करते हुए बताया कि श्रुतमयी प्रज्ञा मतलब सुना गया ज्ञान है वहीं चिंतनमयी प्रज्ञा का अर्थ सुनने एवं पढ़ने के बाद चिंतन करना तथा भावनामयी प्रज्ञा का अर्थ किसी भी बात की जब तक अनुभूति नहीं होती तब तक उसे सत्य नहीं मानना चाहिए।
उन्होने कहा कि हिंसा,हत्या, चोरी न करना कामवासना से विमुख होकर, झूठ, चुगली एवं बकवास न करने तथा नशील पदार्थो का सेवन न कर सत्य आचरण का अनुसरण किया जा सकता है। उन्होने अच्छे कर्म करने और बुरे कर्मो कोे न करने की सीख प्रदान की है। उन्होने कहा कि बुरे कर्म और अच्छे कर्म ही मनुष्य के सुख और दुख के कारण हैं। उन्होने कहा कि अच्छे कर्म का प्रतिफल अच्छा और बुरे कर्म का दण्ड अवश्य मिलता है। यह अटल सत्य है। जिस प्रकार बैल के पीछे-पीछे गाड़ी के पहिए चलते हैं। उसी तरह मनुष्य के सुकर्म और दुष्कर्म उसका पीछा नहीं छोड़ते हैे।
साहू समाज निकाय चुनाव में उम्मीदवार खड़ा करेगा
फतेहपुर, 06 मई। साहू राठौर चेतना समिति की मासिक बैठक संगठन कार्यालय रामगंज पक्का तालाब में हुई। जिसमें निकाय चुनाव में सभी नगर पालिका परिषद एवं नगर पंचायतों में अध्यक्ष एवं सभासद पद के स्वजातीय उम्मीदवारो को खड़ा करने का निर्णय लिया गया।
बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद संगठन के इलाहाबाद मंडल प्रभारी गंगा प्रसाद साहू एवं विशिष्ठ अतिथि धर्मराज साहू ने राघ्ट्पिता महात्मा गांधी के चित्र पर माल्यार्पण करके साहू समाज के भावी पीढ़ी को शासन-सत्ता में भागीदारी प्रदान करने के लिए शिक्षा प्रदान करने तथा सामाजिक कुरीतियों का परित्याग करने का निर्णय लिया गया। वहीं निकाय चुनाव में स्वजातीय प्रत्याशियों को विजयी बनाने के लिए एकजुट रहने की सभी लोगों से अपील की गयी। इस मौके पर जिला पंचायत सदस्य बब्ली साहू, राजेश साहू, कालीचरन साहू, मन्नीलाल साहू, राजकुमार साहू, विजयलक्ष्मी साहू सहित तमाम स्वजातीय बंधु मौजूद रहें

Some other news stories

 
मेरठ जेल में संघर्ष. आगजनी, डिप्टी जेलर समेत छह घायल Marriage registration का विरोध करेंगे Indian Muslim
कुशीनगरःछात्राओं का यौन उत्पीड़न, दो हिरासत में हुकुम सिंह भाजपा विधायक दल के नेता चुने गए
गरीबों के घरों पर बुलडोजर, सपाईयों के मकान महफूज लखनऊ में सीएम के निर्देश पर trafic control
युवक ने उजाड़ दी girl friend  की दुनिया Darul Uloom  देवबंद के Kashmiri student की हत्या का मामला
स्वर्ण शताब्दी में साफ्टवेयर इंजीनियर युवती से छेड़छाड़ मोदीनगर के आरोपी व्यापारी नशे में थे चूर. गाजियाबाद में गिरफ्तार
जनता दर्शन की पुरानी व्यवस्था बहाल Cancer  की चपेट में Indian youth
Highway से किडनैप, होटल में Gang rape & MMS  त्रकार काजमी की गिरतारी के विरोध में उग्र प्रदर्शन
March 30: पूनम सेलिब्रेट Cleavage day प्रमुख सचिव मुख्यमंत्रीसंजय अग्रवाल की तैनाती निरस्त
तीस PCS अधिकारियों के तबादले बादल चटर्जी APC Branch  भेजे गए,
मृत्युंजय कुमार मेरठ के कमिश्नर आगरा और गोरखपुर में नए आईजी तैनात

News source: U.P.Samachar Sewa

News & Article:  Comments on this upsamacharsewa@gmail.com  

 
 
 
                               
 
»
Home  
»
About Us  
»
Matermony  
»
Tour & Travels  
»
Contact Us  
 
»
News & Current Affairs  
»
Career  
»
Arts Gallery  
»
Books  
»
Feedback  
 
»
Sports  
»
Find Job  
»
Astrology  
»
Shopping  
»
News Letter  
up-webnews | Best viewed in 1024*768 pixel resolution with IE 6.0 or above. | Disclaimer | Powered by : omni-NET