U.P. Web News
|
|
|
|
|
|
|
|
|
 
  Meerut/ मेरठ  
 
Home>News>Election.14>Meerut

 
Uttar Pradesh - Meerut
Result Declared
Candidate Party Votes
RAJENDRA AGARWAL Bharatiya Janata Party 532981
MOHD.SHAHID AKHLAK Bahujan Samaj Party 300655
SHAHID MANZOOR Samajwadi Party 211759
NAGMA Indian National Congress 42911
DR. (EX. MAJ) HIMANSHU SINGH Aam Aadmi Party 11793
SUNIL DUTT Independent 1734
MUKESH KUMAR Independent 1542
MOHD.USMAN GHAZI Rashtriya Apna Dal 1451
MOHD. SAJID SAIFI Bahujan Mukti Party 1063
ATUL KHODAWAL Independent 818
IQRA CHOUDHARY Independent 734
APHAJAL Independent 382
ANIL Independent 348
None of the Above None of the Above 5213
Last Updated at 4:54 PM On 17/5/2014

 

कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष सलीम भारती सपा में शामिल

मेरठ, 06 अप्रैल। मेरठ-हापुड़ लोकसभा सीट पर कांग्रेसियों की गुटबाजी पार्टी प्रत्याषी को भारी पड़ने जा रही है। कांग्रेस के ाहर अध्यक्ष सलीम भारती समेत बड़ी संख्या में कांग्रेसी ने सपा में ाामिल हो गए। इससे कांग्रेस प्रत्याषी को करारा झटका लगा है और सपा प्रत्याषी के हौसले बुलंद हो गए हैं।

इससे पहले गौतमबुद्ध नगर के कांग्रेस प्रत्याषी रमेष चंद्र तोमर भाजपा में ाामिल हो चुके हैं।कांग्रेस में नगमा को टिकट मिलने के बाद से गुटबाजी हावी होती जा रही है। कांग्रेस के ाहर अध्यक्ष सलीम भारती ने पार्टी के प्रदेष उपाध्यक्ष व पूर्व एमएलसी हरेंद्र अग्रवाल और जिला प्रभारी प्रदीप कंसल को पार्टी से निकाल दिया था। इसके बाद से ही पार्टी में घमासान मचा हुआ था। नगमा के नामांकन के पहले दिन ही सलीम भारती नामांकन पत्र लेकर गायब हो गए थे। इसको लेकर भी नगमा नाराज चल रही थी। रविवार को गढ़ रोड स्थित एक रेस्टोरेंट में सपा प्रत्याषी व कैबिनेट मंत्री ााहिद मंजूर, जिलाध्यक्ष जयवीर सिंह, महानगर अध्यक्ष इसरार सैफी की मौजूदगी में कांग्रेस के ाहर अध्यक्ष सलीम भारती ने अपनी कार्यकारिणी के कई पदाधिकारियों और दो दर्जन वार्ड अध्यक्षों समेत सपा में ाामिल होने की घोशणा की।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रत्याषी नगमा किसी भी कर्मठ कांग्रेसी का सम्मान नहीं कर रही है। बार-बार वरिश्ठ कांग्रेसियों की अनदेखी की जा रही है। वह कुछ लोगों की कठपुतली बन गई है। मतदान से तीन दिन पहले ही कांग्रेस की ाहर कार्यसमिति के सपा में ाामिल होने से कांग्रेस को करारा झटका लगा है।

 
पूर्व विधायक सतेन्द्र सोलंकी बसपा छोड़कर रालोद में शामिल

मेरठ, 02 अप्रैल। पूर्व विधायक सतेन्द्र सोलंकी ने बुधवार को राश्ट्रीय लोकदल अध्यक्ष एवं केन्द्रीय नागर विमानन मंत्री चैधरी अजित सिंह के सामने बसपा छोड़कर रालोद में ाामिल हो गए। इससे रालोद ने राहत की सांस ली है।
बरनावा विधानसभा क्षेत्र से रालोद के विधायक रहे सतेन्द्र सोलंकी कुछ समय पहले बसपा में ाामिल हो गए थे। अब बुधवार को वह फिर से रालोद में ाामिल हो गए। उन्होंने कहा कि बसपा भ्रष्टाचारियों की पार्टी है तथा बसपा के किसी भी नेता ने मुजफ्फरनगर के साम्प्रदायिक दंगों में लोगों के हाल तक जानने की कोषिष नहीं की तथा किसानों पर अंधाधुंध गोली चलाना और उनकी जमीन जबरन अधिग्रहित कर औने-पौने दामों में लेकर पूंजीपतियों के हाथ बेचना इसकी नीतियों में शामिल है। बसपा की किसान विरोधी नीतियों से तंग आकर ही वह रालोद में ाामिल हुए हैं।

सांसद बनी तो अधूरे विकास कार्य एक वर्ष में होंगे पूरे नगमा

Nagma Meerut हापुड़  1 अप्रैलकांग्रेसएराष्टड्ढ्रीय लोकदल की संयुक्त प्रत्याशी फिल्म अभिनेत्री नगमा वकांग्रेस विधायक गजराज सिंह का रालोद नगर अध्यक्ष गोपाल शर्मा के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने जोरदार स्वागत किया।इस अवसर पर नगमा ने उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि वह लोकसभा क्षेत्र के गांव गांव जाकर मतदाताओं से जनसंपर्क कर रही हैं। और मतदाता भी उन्हें अपना समर्थन देने की घोषणा कर रही हैं। उन्हें समर्थन देने वालों का ग्राफ प्रतिदिन बढ़ता जा रहा हैं।

उन्होंने कहा कि आगामी 10 अप्रैल को वोटरों ने उन्हें अपना आशीर्वाद देकर संसद भवन भेजने का कार्य किया तोएवह लोकसभा क्षेत्र में अधूरे पड़े विकास कार्यों को एक वर्ष में पूरा करायेंगी। वह राहुल गांधीएसोनिय गांधी व चौधरी अजीत सिंह का आभार व्यक्त करती हैंएउन्होंने उन्हें चुनाव मैदान में उतारा। रालोद नगर अध्यक्ष गोपाल शर्मा ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता भी उन्हें विश्वास दिलाते हैंएकि वह नगमा को जिताने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता  रालोद के जिलाध्यक्ष अब्बास अली संचालन पंडित गोपाल शर्मा ने किया। इस अवसर पर संजय कंसलएहेमन्त मिश्राएदीपक शर्माएदेवेन्द्र सोलंकीएमुनेश कंसलएराजकुमार जौहरीएनवरत्न त्यागीएआशीष शर्माएसलीमएराजीव गोस्वामीएअनुज अग्रवाल आदि उपस्थित थे।

दलितों को महज वोट बैंक समझना पड़ सकता बसपा को भारी

Publised on : 30 March 2014 Time: 21:12

मेरठ, 30 मार्च। दलित समाज को महज अपना वोट बैंक समझना बसपा को भारी पड़ता जा रहा है। मुजफ्फरनगर दंगों के बाद पश्चिमी उत्तर प्रदेश की बदली परिस्थितियों में बसपा का दलित वोटर उससे छिटकने लगा है, जबकि बसपा प्रत्याशी दलित समाज को अपना बंधुवा वोटर समझकर उनके बीच जाने से भी परहेज कर रहे हैं। मेरठ समेत कई सीटों पर ऐसे ही हालात हो रहे हैं। बसपा प्रत्याशियों की अनदेखी से दलितों में आक्रोश पनपता जा रहा है और उनका रूझान मोदी की तरफ होने लगा है।

बसपा की सबसे बड़ी ताकत उसकी सोशल इंजीनियरिंग को माना जाता है। हर विधानसभा और लोकसभा सीट पर दलित वोटरों के रूप में एक पुख्ता वोट बैंक होता है। बसपा ने अपनी सोशल इंजीनियरिंग के दम पर पहले 2007 के विधानसभा चुनावों में बहुमत हासिल किया और इसके बाद 2009 के लोकसभा चुनावों में बढ़त हासिल की। इसमें बसपा ने सामाजिक समीकरणों के लिहाज से मुस्लिम, ब्राह्मण, ठाकुर, कुशवाहा आदि प्रत्याशियों को उतारा। दलित वोटर के साथ इन प्रत्याशियों ने अपनी जातियों के वोट हासिल करके फतह हासिल कर ली। तब दलितों के साथ अति पिछड़ा वोटर भी बसपा के साथ लामबंद हो गया। इस बार परिस्थिति बदली नजर रही है। अति पिछड़ा वर्ग का रूझान इस बार नरेंद्र मोदी की वजह से भाजपा की तरफ माना जा रहा है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में रही-सही कसर बसपा प्रत्याशियों की दलित वोटरों के प्रति उदासीनता ने पूरी कर दी है।

मेरठ-हापुड़ लोकसभा सीट पर पार्टी प्रत्याशी शाहिद अखलाक की अनदेखी से दलित वोटरों में उनके प्रति नाराजगी बढ़ती जा रही है। दरअसल मुजफ्फरनगर दंगों के बाद दलित समाज के रूख में भी बदलाव रहा है। इसी कारण बसपा के मुस्लिम प्रत्याशियों ने दलित समाज के बीच प्रचार का सारा जिम्मा बसपा के दलित पदाधिकारियों पर ही छोड़ दिया है। बसपा प्रत्याशी अपनी चुनावी सभाएं केवल मुस्लिम इलाकों में ही कर रहे हैं। दलित पदाधिकारियों ने इसकी शिकायत पार्टी नेतृत्व तक पहुंचा दी है। कैराना लोकसभा सीट से बसपा प्रत्याशी कंवर हसन भी यही रणनीति अपना रहे हैं। उनके भतीजे बसपा की सांसद रही तब्बसुम हसन के बेटे सपा प्रत्याशी नाहिद हसन ने मायावती के प्रति जमकर आग उगली। माना जा रहा है कि यह सारी कवायद मुस्लिम वोटरों के धु्रवीकरण के लिए किया जा रहा है। ऐसे में बसपा के वोट बैंक को वह अपना पुख्ता मानकर वहां प्रचार करने से भी बच रहे हैं। जबकि दलित वोटरों का कहना है कि ऐसी अनदेखी पार्टी को भारी पड़ सकती है।

दयानन्द गुप्ता का टिकट कटा, नगमा मेरठ से कांग्रेस उम्मीदवार
Tags: UP News, Meerut MP Constituency,
Publised on : 13 March 2014 Time: 23:22

मेरठ। कांग्रेस ने मेरठ संसदीय सीट से अपने पूर्व घोषित उम्मीदवार दयानन्द गुप्ता का टिकट काट दिया है। पार्टी ने अब इस सीट से सिने अभिनेत्री नगमा को उम्मीदवार बनाया है।

Notification: 15.03.2014
Nomination: 15-22 March 14
Withdrawal: 26.03.2014
Polling: 10.04.2014
Counting: 16.05.2014

   Candidate

Nagma:Congress

Rajendra Agarwal:BJP
 
 
   
 
 
                               
 
»
Home  
»
About Us  
»
Matermony  
»
Tour & Travels  
»
Contact Us  
 
»
News & Current Affairs  
»
Career  
»
Arts Gallery  
»
Books  
»
Feedback  
 
»
Sports  
»
Find Job  
»
Astrology  
»
Shopping  
»
News Letter  
up-webnews | Best viewed in 1024*768 pixel resolution with IE 6.0 or above. | Disclaimer | Powered by : omni-NET