|
|
|
|
|
|
|
|
|
Election

Photo feature
 
Entertainment
 
Kaitrina Kaif
 
Aisvarya Rai
 
Anuska Sarma
 
Namitha
 
Special
 
Photo News
 
Health
 
History
 
Assambly
 
Education
 
Gov. Data

 

सीतापुर में कोरोना के प्रभाव को देखते हुए डीएम ने दिये व्यापक तैयारियों के निर्देश

#Sitapur news, Corona efact, DM Akhilesh Tiwari, Social Organization

सीतापुर , 19 मई 2020 उत्तर प्रदेश समाचार सेवा  > जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी की अध्यक्षता में जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक सम्पन्न हुयी। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने कोरोना वायरस कोविड-19 के प्रसार को रोकने के दृष्टिगत विभिन्न विभागों द्वारा की गयी कार्यवाही की स्थिति की समीक्षा की।

जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिये कि जनपद में कोरोना संक्रमितों के इलाज हेतु बेडों की संख्या व आवश्यक उपकरणों की संख्या बढ़ायी जाये। इसके लिये वैकल्पिक व्यवस्थाओं का सर्वे कराकर संबंधित संस्थानों के अधिग्रहण हेतु प्रस्ताव प्रस्तुत करने के निर्देश भी जिलाधिकारी ने दिये। उन्होंने कहा कि आपात स्थिति में पंजीकृत प्राइवेट अस्पतालों के चिकित्सकों व अन्य स्टाफ की सेवाएं लिये जाने हेतु उनका विवरण भी सूचीबद्ध करके रखा जाये तथा उन्हें जरूरी जानकारियां/प्रशिक्षण भी दे दिया जाये, जिससे आपात स्थिति में उनसे सहयोग लिया जा सके। मुख्य चिकित्सा अधिकारी को यह भी निर्देश दिये कि कोविड-19 संक्रमितों की चिकित्सा हेतु आवश्यक दवाओं के अतिरिक्त आक्सीजन सिलेण्डर, दवाइयां, डाक्टरों एवं पैरामेडिकल स्टाफ हेतु पी0पी0ई0 किट आदि आवश्यक वस्तुओं की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता सुनिश्चित की जाये। जिलाधिकारी ने जनपद में 130 बेड के कोविड केयर सेंटर बनाये जाने की स्थिति की भी समीक्षा की। शिकायतों की स्थिति की समीक्षा करते हुये जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि शिकायतों का निस्तारण करने के उपरान्त शिकायतकर्ताओं को निस्तारण के विषय में अवगत करा दिया जाये तथा फोन से वार्ता करके उनकी संतुष्टि के स्तर की जानकारी ली जाये।

गाव में निगरानी समितियों को सक्रिय किया जाए

उन्होंने कहा कि फीडबैक के आधार पर गुणवत्तापूर्ण निस्तारण न होने वाली शिकायतों में तत्काल आवश्यक कार्यवाही की जाये। जिलाधिकारी श्री तिवारी ने ग्राम निगरानी समितियों के क्रियान्वयन की समीक्षा करते हुये जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिये कि ग्राम प्रधानों से फोन पर वार्ता करके निगरानी समिति में उनके दायित्वों के विषय में उन्हें भलीभांति अवगत करा दिया जाये। साथ ही यह सुनिश्चित किया जाये कि होम क्वारंटीन वाले घरों के बाहर इस आशय का संकेतक लेबल आशा द्वारा अवश्य चस्पा किया गया हो जिस पर क्वारंटीन अवधि का स्पष्ट रूप से अंकन किया जाये। आशा एवं आंगनबाड़ी ऐसे घरों का डोर-टू-डोर भ्रमण अवश्य करें तथा लोगों को जागरूक करें। उन्होंने निर्देश दिये कि सी0एच0सी0 प्रभारी अपने अन्तर्गत आने वाली आशा से होम क्वारंटीन किये गये लोगों के विषय में नियमित तौर पर फीडबैक अवश्य प्राप्त करें। उन्होंने डी0पी0आर0ओ0 और मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिये कि इस प्रकार प्रधानों, आशा, आंगनबाड़ी से प्राप्त फीडबैक का विवरण नियमित रूप से बैठक में प्रस्तुत किया जाये। जिलाधिकारी ने पुलिस कन्ट्रोल रूम एवं डायल 112 से प्राप्त फीडबैक की भी समीक्षा की।जिलाधिकारी ने जनपदवासियों से अपील करते हुये कहा है कि जिन लोगों के पास एण्ड्रायड फोन हो वह प्ले स्टोर में जाकर आरोग्य सेतु एप्लीकेशन डाउनलोड कर लें। यदि छोटा मोबाइल फोन हो तो 1921 पर मिस्डकाल दे सकते हैं। उसके बाद आरोग्य सेतु की तरफ से संबंधित मोबाइल पर फोन आयेगा जिसमें कुछ आसान प्रश्नों का सही जवाब देने पर रजिस्ट्रेशन हो जायेगा।

अन्य प्रांतों के लोगों को सुरक्षित पहुंचाया जाएगा

जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी ने आम जनता को अवगत कराया है शासन से प्राप्त निर्देशों के क्रम में अन्य जनपदों एवं प्रान्तों के लोगो को जिला प्रशासन द्वारा प्रबन्ध करके उच्च स्तर पर समन्वय स्थापित कर उनके गंतव्य स्थलों तक सुरक्षित साधनों से भेजा जा रहा है। इसी क्रम में उन्होंने जनपद में फंसे अन्य राज्यों के व्यक्तियों से अपील की है कि वह तत्काल सम्बंधित उपजिलाधिकारियों से संपर्क कर अपना विवरण दर्ज कराए। उन्होंने बताया कि विवरण एकत्रित कर संबंधित जिला प्रशासन से समन्वय स्थापित करते हुये गंतव्य तक भेजने का प्रबंध किया जाएगा।

जिलाधिकारी श्री तिवारी ने अपील की है कि प्रशासन द्वारा सभी को सुरक्षित भेजने के लिये हर सम्भव प्रयास किये जा रहे है, इसलिये कोई भी व्यक्ति पैदल, साइकिल द्वारा या असुरक्षित वाहनों से यात्रा न करे। किसी भी प्रकार की असुविधा होने पर एकीकृत जिला कंट्रोल रूम 05862-245753 या 05862-240009 पर सम्पर्क कर सकते है।जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी ने बताया कि उत्तर प्रदेश राज्य के अन्य प्रदेशोंध्केन्द्र शासित क्षेत्रों में अवरूद्ध व्यक्तियों तथा अन्य प्रदेशोंध्केन्द्र शासित क्षेत्रों के उत्तर प्रदेश में अवरूद्ध व्यक्तियों की वापसी के संबंध में अनुमतिध्प्रक्रिया निर्गत की गयी हैं। उन्होंने बताया कि इच्छुक व्यक्तियों की वापसी हेतु पास निर्गत किये जाने के लिये जनसुनवाई पोर्टल- रंदेनदूंप.नच.दपब.पद पर तथा ंदकतवपक ंचच पर आवेदन किये जाने की सुविधा दी गयी है। जो भी व्यक्ति (जो व्यक्तिगत रूप से या दूसरों की मदद से) बाहर जाने के इच्छुक हैं, जनसुवाई पोर्टल- रंदेनदूंप.नच.दपब.पद अथवा ंदकतवपक ंचच पर उत्तर प्रदेश से अन्य राज्य जाने हेतु और अन्य राज्यों से उत्तर प्रदेश आने हेतु लिंक्स के माध्यम से स्पष्ट रूप से अपना नाम, पहचान प्रकारध्आधार संख्या, पहचान चिन्ह, सम्पर्क नम्बर, समूह के व्यक्तियों के नाम, अन्य प्रदेश में मूल पते की तहसील व जनपद का नाम, गंतव्य राज्य आदि का विवरण भरकर अपना पंजीकरण करा सकते हैं।

सामाजिक संगठन जरूरतमंद श्रमिकों की मदद को आगे आएं: डीएम

जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी ने जनपद के समस्त नागरिकगणों से अपील करते हुए अवगत कराया है कि वर्तमान में देश व प्रदेश में कोरोना वायरस कोविड-19 का प्रकोप चल रहा है। इस दौरान देश व प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में फंसे हुये गरीब/श्रमिक/कामगार दिहाड़ी मजदूर विभिन्न माध्यमों से जनपद मे आ रहे हैं, जिन्हें राहतध्क्वारंटीन शिविरों में आश्रय दिया जा रहा है। चूंकि यह लोग आपात स्थिति में काफी लम्बी यात्रा करके जनपद तक आये हैं इसलिये अपने साथ अत्यन्त महत्वपूर्ण वस्तुएं ही ला सके हैं तथा अनेक प्रकार की वस्तुओं की कमी है। इन लोगों की न्यूनतम मूलभूत आवश्यकता के अनुरूप खाद्य सामग्री व अन्य जीवनोपयोगी वस्तुओं को उपलब्ध कराये जाने का प्रयास युद्ध स्तर पर किया जा रहा है। सरकार के इस प्रयास में जनमानस की सक्रिय सहभागिता आवश्यक है।उन्होंने समस्त संगठनोंध्सम्मानित नागरिकों से अनुरोध किया है कि यदि वह महामारी के इस प्रकोप से प्रभावित परिवारों को जीवनोपयोगी वस्तुएं जैसे बच्चों के कपड़े, महिलाओं के लिए साड़ी, दरी, चादर, चप्पलें, बच्चों के अध्ययन हेतु पुस्तकें, कलम-कापी आदि उपलब्ध कराते हुये सरकार के इस प्रयास में सहयोग करना चाहते हों तो नगर क्षेत्र में नगर मजिस्ट्रेट एवं तहसील क्षेत्र हेतु सम्बन्धित उपजिलाधिकारी से सम्पर्क कर सकते हैं।  


कोरोना काल में दुकानो पर न लगे भीड़ एवं साफ-सफाई का रखा जाये विशेष ध्यान-डीएम

सीतापुर (उ0प्र0 समाचार सेवा)। जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार मं व्यापार मण्डल के प्रतिनिधियों के साथ बैठक सम्पन्न हुयी। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने कोविड-19 महामारी में घोषित लाकडाउन के दौरान व्यापारिक प्रतिष्ठानों को छूट दिये जाने के संबंध में गठित समिति द्वारा प्रस्तुत किये गये प्रस्ताव एवं व्यापार मण्डल के प्रतिनिधियों द्वारा दिये गये सुझावों के आधार पर निर्धारित समय सारणी के अनुसार छूट दिये जाने पर विस्तारपूर्वक चर्चा की।

जिलाधिकारी ने बताया कि सीतापुर शहर में सभी दुकानदारों द्वारा दुकान के अन्दर सफाई अभियान चलाया जायेगा। तत्पश्चात नगर निकाय के द्वारा कूड़ा उठानें और पूरी तरह से सेनिटाईजेशन करने का कार्य होगा। उन्होंने कहा कि इस कार्य को पूरी गम्भीरता के साथ किया जाये। जिलाधिकारी ने स्पष्ट निर्देश दिये कि अतिउत्साह में बाजार में अनावश्यक भीड़ न हो यह सुनिश्चित किया जाये। जो अनुशासन अब तक बना रहा है वह आगे भी बना रहे, जनपद के सभी संबंधित अधिकारी यह सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि बाजार खुलने का मतलब स्वच्छन्दता नही है, लाकडाउन अभी भी प्रभावी है तथा महामारी अधिनियम भी लागू है इसलिये नियमों का सभी पालन करना सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी उपजिलाधिकारियों को निर्देश दिये कि अपर जिलाधिकारी द्वारा दिये गये निर्देशानुसार सभी अपनी स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार तैयारी कर लें। उन्होंने कहा कि अत्यन्त अपरिहार्यता की स्थिति में ही लोग घरों से निकलें तथा मास्क लगाकर ही निकलें। जिलाधिकारी ने कहा कि धारा 144 लागू है इसलिये इसका कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि मास्क का प्रयोग न करने वालों पर जुर्माना किया जायेगा तथा अनावश्यक रूप से घूमते मिलने वालों पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी। सोशल डिस्टेंसिंग, कोविड प्रोटोकाल का सख्ती से पालन करना होना है। दुकान में ग्राहक का प्रवेश हैण्डसेनिटाईजेशन के उपरान्त ही कराया जाये तथा दुकान में कम से कम व्यक्ति ही रहें। होम डिलीवरी को प्रोत्साहित करने के निर्देश भी जिलाधिकारी ने दिये। उन्होंने कहा कि कपड़े और जूते की दुकानों में ट्रायल करना प्रतिबन्धित रखा जायेगा। उन्होंने सभी अपील की कि दुकान में आने वाले ग्राहकों को आरोग्य सेतु डाउनलोड करने के लिये भी प्रेरित करें।जिलाधिकारी ने बताया कि गुटखा, तम्बाकू, पान-पुड़िया, रेस्टोरेन्ट, चाय की दुकान, चाट-पकौड़ी, अण्डा, मछली, मीट आदि के ठेले, ई-रिक्शा, टैक्सी, सैलून, ब्यूटी पार्लर, शाॅपिंग माॅलध्मार्ट, समस्त शोरूम, बारात घर, सिनेमा हाल, मिठाई की दुकानें, रेडीमेड छोटे समोसा, नमकीन, दालमोठ, बेकरी के व्यापारिक प्रतिष्ठान पूर्ण रूप से बन्द किये गये हैं। मेडिकल स्टोर प्रतिदिन पूर्वान्ह 09.00 बजे से सांय 07.00 बजे तक खोला जा सकेगा। किराना की दुकानें, कृषि से संबंधित उपकरण, मरम्मत से संबंधित प्रतिष्ठान, मिट्टी के बर्तन आदि पत्तल, दोना प्रतिदिन पूर्वान्ह 11.00 बजे से सांय 05.00 बजे तक, खाद्य, बीज, पेस्टीसाइड प्रतिदिन पूर्वान्ह 07.00 बजे से अपरान्ह 03.00 बजे तक खोली जा सकेगी। गलियों में फल, दूध एवं सब्जी का विक्रय ठेला, चलते फिरते वाहनों द्वारा प्रतिदिन प्रातः 11.00 बजे से सांय 05.00 बजे तक किया जा सकेगा।इसके अतिरिक्त सोमवार, बुधवार एवं शुक्रवार को पूर्वान्ह 11.00 बजे से सांय 05.00 बजे तक किताबे, स्टेशनरी की दुकानें, मुहर की दुकान, स्पोर्ट, टायर ट्यूब, रिम तथा रिपेयरिंग की दुकान, चस्मा घर, सीमेंट, सरिया, बालू, मौरंग, बांस, बल्ली, पटरा, (समस्त बिल्डिंग सामग्री), हार्डवेयर, सेनेटरी, लोहे की दुकान, फोटोग्राफी, फोटोग्राफिक लैब, ज्वैलरी की दुकानें, कम्प्यूटर हार्डवेयर, साफ्टवेयर की दुकान, गिफ्ट, मोबाइल की दुकानें, साइकिल की रिपेयरिंग, इलेक्ट्रिक और इलेक्ट्रानिक्स, बर्तन, आटोमोबाइल रिपेयरिंग, प्रिंटिंग प्रेस, आफसेट, फ्लैक्स से संबंधित प्रतिष्ठान, कूलर व लोहे का बक्सा, बखरी की दुकान खोली जा सकेंगे।मंगलवार, बृहस्पतिवार व शनिवार को पूर्वान्ह 11.00 बजे से सांय 05.00 बजे तक वस्त्रालय, टेलरिंग, जूते व चप्पल की दुकानें, घड़ी की दुकानें/मरम्मत कार्य तथा बैग/अटैची/सूटकेस से संबंधित व्यापारिक प्रतिष्ठान खोले जा सकेंगे।बैठक के दौरान पुलिस उपमहानिरीक्षक/पुलिस अधीक्षक एल0आर0 कुमार ने लोगों को लाकडाउन कड़ाई से पालन करने को कहा। इस दौरान अपर जिलाधिकारी विनय कुमार पाठक, अपर पुलिस अधीक्षक मधुवन कुमार सिंह सहित संबंधित अधिकारी एवं व्यापारी बन्धु उपस्थित रहे।

विधायक ने बाढ़ सुरक्षा परियोजनाओं का भूमि पूजन कर किया शुभारंभ
सीतापुर (उ0प्र0 समाचार सेवा)। रामपुर मथुर ब्लाक के घाघरा नदी पर बहुप्रतीक्षित चार बाढ़ सुरक्षा परियोजनाओ का भूमि पूजन कर शुभारंभ हो गया मालूम हो सेवता विधानसभा में बाढ़ कटान निरोधी परियोजना के कार्य का शुभारंभ स्थानीय विधायक ज्ञान तिवारी ने पूजा अर्चना करके किया 45 करोड़ की इन परियोजना की मांग वर्षो से यहां की बाढ़ पीड़ित जनता करती चली आ रही थी विधायक ज्ञान तिवारी निर्वाचित होने के बाद से ही इस परियोजना को मंजूरी दिलाने के लिए शासन से लगाकर प्रशासन स्तर तक लगे हुए थे काफी प्रयास के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इन परियोजना को मंजूरी देकर बजट निर्गत किया है लाकडाउन के चलते इस परियोजनाओ का शुभारंभ नहीं हो सका था सोमवार को विधायक ने इस परियोजनाओ ग्राम बगस्ती में पूजा अर्चना कर शुभारंभ कर दिया मालूम हो आगामी बाढ़ आगमन से पहले इस परियोजना के निर्माण की अत्यंत आवश्यकता थी विधायक ने कहा सेवता विधानसभा में बाढ़ का स्थाई समाधान उनकी प्राथमिकता है ,और वह इस कार्य में पूरे मनोयोग से लगे हुए हैं उन्होंने कहा कहीं भी किसी को भी बाढ़ से कटने नहीं दिया जाएगा विधायक ने कहा अन्य परियोजनाओं को भी जल्द मंजूरी दिलाई जाएगी विधायक ज्ञान तिवारी ने बताया परियोजना के कार्य का शुभारंभ के साथ ही यहां सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएगे जिससे कि होने वाले कार्यों की निगरानी ऑनलाइन हर समय हो सके। उन्होंने कहा लाकडाउन को देखते हुए बाढ़ खंड बाराबंकी निर्माण कार्य में स्थानीय श्रमिकों को तवज्जो देगी साथ ही परियोजना का कार्य पूर्ण गुणवत्ता परक हो इस पर विशेष ध्यान दिया जाएगा उन्होंने कहा यह परियोजना पूर्ण हो जाने से क्षेत्र के करीब दो दर्जन गांव बाढ़ विभीषिका से बच सकेंगे ।

 

 
Lord Budha  
 About Us  
U.P.Police  
Tour & Travels  
Relationship  
 
Rural  
 News Inbox  
Photo Gallery  
Video  
Feedback  
 
Sports  
 Find Job  
Our Team  
Links  
Sitemap  
 
Blogs & Blogers  
 Press,Media  
Facebook Activities  
Art & Culture  

Sitemap  
up-webnews | Best viewed in 1024*768 pixel resolution with IE 6.0 or above. | Disclaimer | Powered by : omni-NET

 

Send mail to upsamacharseva@gmail.com with questions or comments about this web site.
Copyright 2019 U.P WEB NEWS
Last modified: 05/03/20