|
|
|
|
|
|
|
|
|
Election
     
     
 

   

The U.P. Web News

CAA वापस नहीं होगा: अमित शाह

लखनऊ में नागरिकता (संशोधन) कानून के समर्थन में रैली
अमित शाह ने कहा कि मुसलमानों में कांग्रेस, सपा, बसपा और टीएमसी ने भ्रम फैलाया
सरकार ने तीन देशों के उत्पीड़ित अल्पसंख्यकों को दिया न्याय
गुरू कश्मीर से धारा 37 हटाकर मोदी जी ने वादा पूरा किया

Tags: #BJP RALLY LUCKNOW #AMIT SHAH, #CAA #NRC#NPR

CAA SUPORT RALLY IN LUCKNOW

UP Samachar Sewa लखनऊ, 21 जनवरी 2020, ( यूपी समाचार सेवा)। नागरिकता (संशोधन) कानून के समर्थन में भारतीय जनता पार्टी द्वारा मंगलवार को यहां आयोजित रैली में भारी जनसमूह उणड़ा। रैली को भारतीय जनता पार्टी के निवर्तमान अध्यक्ष और गृहमंत्री अमित शाह ने संबोधित किया। शाह ने लखनऊ के बंगला बाजार में कथा पार्क में रैली में ऐलान कर दिया कि कानून का विरोध करने वाले कान खोलकर सुन लें, यह कानून वापस नहीं होगा। उन्होंने मुसलमानों को भी भरोसा दिलाया कि कानून से डरने की जरूरत नहीं है। यह कानून किसी की नागरिकता लेने के लिए नहीं है बल्कि नागरिकता देने के लिए है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बंगालदेश में दशकों से वहां के अलपसंख्यकों का उत्पीड़न हो रहा था। उनकी जनसंख्या लगातार घटती चली गई। हिन्दू, सिख, बैद्ध,जैन,पारसी, ईसाई उत्पीड़न के कारण लगातार पलायन कर भारत आ रहे थे। उन्हें मानवीयता के आधार नागरिकता देने का फैसला किया गया। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में बौद्धों के प्रमुख स्थल नष्ट कर दिये गए। पाकिस्तान और बंगलादेश में भयंकर अत्याचार हुए।

नागरिकता कानून के देशभर में हो रहे विरोध के लिए उन्होंने विपक्ष को जिम्मेदार ठहराया। शाह ने कहा कि राहुल  गांधी और इमरान खान एक ही भाषा बोलते हैं। उन्होंने कहा कि सपा, बसपा, कांग्रेस और टीमसी ने विरोध के लिए एक वर्ग को भ्रमित कर उकसाया है। श्री शाह ने गांधी और नेहरू के भाषणों का भी जिक्र किया जिसमें कहा गया था कि पाकिस्तान से आने वाले अल्पसंख्यकों को नागरिकता दी जाएगी। उन्होंने बताया कि राजस्थान में विधान सभा चुनाव के दौरान कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में पाकिस्तान से आये हिन्दुओं को नागरिकता देने का वादा किया था। रैली में उन्होंने कश्मीर से धारा 370 हटाकर वादा पूरा करने का भी जिक्र  किया। उन्होंने कहा कि कोई सोचता भी नहीं था कि कभी धारा 370 हट सकती है लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी करके दिखा दिया।

Muslim women in suport of CAAउन्होंने कहा कि अयोध्या में पांच सौ साल पहले भगवान राम के मन्दिर को तोड़ दिया गया था। अब वहां भव्य मन्दिर का निर्माण होगा। राम मन्दिर के मामले में भी सर्वोच्च न्यायालय में कांग्रेस ने अडंगा लगाने का कोशिश की थी। बार बार मामले को टालने की कोशिश की। रैली में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने भी विचार व्यक्त किये।

रैली में अनेक लोग सीएए के समर्थन में बैनर पोस्टर लेकर आये थे। इनमें कुछ मुस्लिम महिलाएं भी थीं, जोकि समर्थन में पोस्टर लेकर आयी थीं।

Comments on this News & Article: upsamacharsewa@gmail.com  

 
Man Ki Bat: प्रधानमंत्री ने स्थानीय उत्पाद अपनाने पर दिया बल चर्चित फैसलों के लिए याद किया जाएगा वर्ष 2019
टुकड़े-टुकड़े गैंग को सजा देने का वक्त अब आ गया है:अमित शाह नेतृत्व का मतलब जनता को उकसाना नहीं: जनरल रावत
हमने हर चुनौती का डटकर मुकाबला किया और आगे भी करेंगे झारखण्ड: भाजपा सत्ता से बाहर,  गठबंधन की जीत
दंगाइयों ने फूंकी दो पुलिस चौकी, बस और मीडिया की ओवी वैन #CAA के खिलाफ बसपा सांसद राष्ट्रपति से मिले
यूपी सरकार चाहती है नमामि गंगे परियोजना का समय बढ़े फतेहपुर में युवती को जिंदा जलाकर मारने की कोशिश
रामालय ट्रस्ट को मिले मन्दिर बनाने का अधिकार नये ट्रस्ट की जरूरत नहीं- महंत नृत्यगोपाल दास
 
 
                               
 
»
Home  
»
About Us  
»
Matermony  
»
Tour & Travels  
»
Contact Us  
 
»
News & Current Affairs  
»
Career  
»
Arts Gallery  
»
Books  
»
Feedback  
 
»
Sports  
»
Find Job  
»
Astrology  
»
Shopping  
»
News Letter  
up-webnews | Best viewed in 1024*768 pixel resolution with IE 6.0 or above. | Disclaimer | Powered by : omni-NET