|
|
|
|
|
|
|
|
|
Election
     
     
 

   

The U.P. Web News

चर्चित फैसलों और तीन जननेताओं के विछोह के लिए

याद किया जाएगा वर्ष 2019

दृढ़ राजनीतिक इच्छाशख्ति का प्रकटीकरण हुआ 2009 में, सदी का सबसे बड़ा न्यायिक फैसला, श्रीरामजन्मभूमि मामले मे आया, धारा 370 हटी, नागरिकता संशोधन कानून आया

Tags: Year 2009 End, Political decision, SC Verdict, CAA , 370 Removed from JK

नई दिल्ली, 31 दिसम्बर 2019, ( यूपी समाचार सेवा UP Samachar Sewa )।  यूं तो हर साल अपनी कुछ विशिष्टाएं लेकर आता है और इतिहास रच कर चला जाता है। लेकिन, कोई साल ऐसा भी होता है जो इतिहास में अमिट छाप छोड़ कर जाता है। ऐसा ही रहा बीता साल 2019, इस साल राष्ट्रीय महत्व की कई ऐसी घटनाएं घटित हुईं जिन्होंने न केवल इतिहास लिख दिया, बल्कि भूगोल भी बदल दिया। जाता हुआ साल जिन ऐतिहासिक घटनाक्रम और फैसलों के लिए याद किया जाएगा, उनमें सबसे प्रमुख है, श्रीरामजन्मभूमि विवाद का निपटारा। पांच सौ साल के विवाद और संघर्ष को सर्वोच्च न्यायालय ने अनवरत साठ दिन की सुनवाई करके निर्णीत कर रामलला के मन्दिर निर्माण का रास्ता प्रसस्त कर दिया। इसके अलावा श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी ने फिर से केन्द्र में सत्ता स्तापित की। पहले अधिक 303 सीटें प्राप्त कर भाजपा सबसे बड़े दल के रूप में उभरी। दूसरी बार श्री मोदी ने प्रधानमंत्री का पद संभाला। केन्द्र में भाजपा के सत्ता में स्थापित होते ही कठोर और दृढ़ इच्छाशक्ति के साथ फैसले हुए। वर्षों से चली आ रही जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने की मांग पूरी की गई। इसके अलावा इसी साल पाकिस्तान पर बालाकोट में एयर स्ट्राइक, तीन तलाक कानून और नागरिकता संशोधन कानून भी देश के इतिहास में दर्ज फैसले हुए। हालांकि जाते जाते नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी पर भ्रम की स्थिति के चलते देश के अनेक हिस्सों में भारी हिंसा और प्रदर्शन हुए हैं। करीब 25 लोगों की जान भी गई है।

साल 2019 जहां उल्लेखनीय फैसलों के लिए याद किया जाएगा, वहीं यह कई प्रमुख शख्सियतों के भी हमसे बिछुड़ने के लिए याद रहेगा। इसी साल चर्चित नेत्री और पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, पूर्व रक्षा मंत्री और समाजवादी नेता जार्ज फर्नांडीस और पूर्व वित्त मंत्री और प्रखर वक्ता अरुण जेटली ने दुनिया से विदा ले ली। इसके साथ ही साल जाते जाते पेजावर मठ के स्वामी विश्वेश तीर्थ भी ब्रह्मलीन हो गए।

-        एक फरवरी को वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने अंतरिम बजट में पहली बार किसानों के लिए प्रधानमंत्री सम्मान निधि की घोषणा की। इस निधि से लघु और सीमान्त किसानों को प्रतिवर्ष छह हजार रुपये सहायता देने का फैसला हुआ। इसके लिए सरकार ने 75 हजार करोड़ रुपये की धनराशि आबंटित की। जबकि बीते वर्ष के लिए बीस हजार करोड़ की अतिरिक्त व्यवस्था की। यह राशि वर्ष 2018 के रबी फसल वर्ष से लागू की गई। इस योजना में 2 हेक्टेयर यानि कि 4.9 एकड़ कृषि भूमि से कम भूमिधारक किसान को सम्मान निधि देने का फैसला हुआ।

-    - 26 फरवरी को भारतीय वायु सेना में पाकिस्तान की सीमा में घुसकर एयर स्ट्राइक किया।

-    - 29 जून को पूर्व रक्षा मंत्री जार्ज फर्नांडीस का निधन हुआ।

-    - 30 मई को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दूसरी बार शपथ ली। भाजपा ने आम चुनाव में 303 सीटें जीतीं। 

-   - 30 जुलाई को तीन तलाक बिल पारित और कानून बना।

-   - 5 अगस्त को जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटायी गई और राज्य को दो हिस्सों में बांटा गया। लद्दाख को अलग केन्द्र शासित प्रदेश बनाया गया।

-    - 6 अगस्त को पूर्व विदेश मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज का निधन हुआ।

-    - 24 अगस्त को पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का निधन हुआ।

-    - 30 अगस्त को बैंको के विलय का फैसला लिय गया।

-    - 2 अक्टूबर को महात्मा गांध की 150 वीं जयंती मनाई गई।

-    - 9 नवम्बर को ऐतिहासिक श्रीरामजन्मभूमि मामले में सर्वोच्च न्यायालय ने मन्दिर के पक्ष में फैसला सुनाया। इससे मन्दिर का मार्ग प्रशस्त हुआ। मुस्लिम पक्ष की याचिकाएं खारिज हुईं।

-   - 11 दिसम्बर को राज्य सभा में नागरिकता संशोधन अधिनियम पारित होकर कानून बना।

-   - दिसम्बर में नागरिकता संशोधन कानून पर देश भर में प्रदर्शन, कई जगह हिंसा।

-    - 28 दिसम्बर को पेजावर मठ के स्वामी विश्वेश तीर्थ ब्रह्मलीन हुए।

-   इसके अलावा विश्व पटल पर पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ को फांसी की सजा सुनाया जाना और श्री लंका में सिलसिलेवार बम धमाकों में 250 लोगों की मौत भी चर्चित घटनाएं रहीं।

-         

Comments on this News & Article: upsamacharsewa@gmail.com  

 
Man Ki Bat: प्रधानमंत्री ने स्थानीय उत्पाद अपनाने पर दिया बल
टुकड़े-टुकड़े गैंग को सजा देने का वक्त अब आ गया है:अमित शाह नेतृत्व का मतलब जनता को उकसाना नहीं: जनरल रावत
हमने हर चुनौती का डटकर मुकाबला किया और आगे भी करेंगे झारखण्ड: भाजपा सत्ता से बाहर,  गठबंधन की जीत
दंगाइयों ने फूंकी दो पुलिस चौकी, बस और मीडिया की ओवी वैन #CAA के खिलाफ बसपा सांसद राष्ट्रपति से मिले
यूपी सरकार चाहती है नमामि गंगे परियोजना का समय बढ़े फतेहपुर में युवती को जिंदा जलाकर मारने की कोशिश
रामालय ट्रस्ट को मिले मन्दिर बनाने का अधिकार नये ट्रस्ट की जरूरत नहीं- महंत नृत्यगोपाल दास
 
 
                               
 
»
Home  
»
About Us  
»
Matermony  
»
Tour & Travels  
»
Contact Us  
 
»
News & Current Affairs  
»
Career  
»
Arts Gallery  
»
Books  
»
Feedback  
 
»
Sports  
»
Find Job  
»
Astrology  
»
Shopping  
»
News Letter  
up-webnews | Best viewed in 1024*768 pixel resolution with IE 6.0 or above. | Disclaimer | Powered by : omni-NET