U.P. Web News
|
|
|
|
|
|
|
|
|
     
   News  
 

   

 
  लंका से सिगरा तक फिजां में घुलती रही नमो की गूंज
Tags: BHU Banaras
Publised on : 08 May 2014  Time 20:17
 

वाराणसी,08मई। भारतीय जनता पार्टी की ओर से प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी नरेंद्र मोदी के समर्थक नमो-नमो का नारा लगाते रहे। आलम ऐसा था कि बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय स्थित लंका से सिगरा स्थित भाजपा के केंद्रीय कार्यालय के बीच उमड़े समर्थक व कार्यकर्ताओं की नारेबाजी की गूंज फिजाओं में रात देर रात तक गूंजती रही।
नरेंद्र मोदी को रोहनियां में आयोजित जनसभा को संबोधित करने के बाद लंका से सिगरा स्थित पार्टी के चुनाव केंद्रीय कार्यालय तक रोड के जरिए जाना था। जनसभा को समाप्त कर मोदी शाम के तकरीबन 5 बजे लंका आ गए। लेकिन यहां पहले से ही मौजूद समर्थकों की भीड़ और लगने वाले नारों के बीच उनकी गाड़ी को रफ्तार नहीं मिल सकी। वे गाड़ी में बैठे रहे और पुलिस प्रशासन उनकी गाड़ी को निकालने का प्रयास करता रहा। तकरीबन आधे घंटे तक यही सब होता रहा। कुछ देर बाद मोदी की आगे बढ़ी। लेकिन भाजपाई व समर्थक इनकी गाड़ी के पीछे हो लिए और दौड़ने लगे। नमो नमो का नारा लगा रहे समर्थकों को देखकर आह्लादित मोदी भी बीच बीच में हाथ हिलाकर उनका अभिवादन करते रहे।
अंबेडकरनगर, रवींद्रपुरी कालोनी, सोनारपुरा, भदैनीमदनपुरा, बंगाली टोला होते हुए सिगरा स्थित पार्टी के केंद्रीय कार्यालय तक जा रहे मोदी रात के तकरीबन 9 बजे तक गोदौलिया तक ही पहुंच सके थे। इसके पीछे कार्यकर्ताओं व समर्थकों की अधिक संख्या बताई जा रही है।तकरीबन छह किलोमीटर की दूरी तय कर रहे उत्साहित कार्यकर्ता घरी-घंट बजाते रहे। शंखनाद करते रहे, और डमरु की धून पर थिरकते रहे। प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी का दावा है कि इसमें नामांकन से अधिक समर्थकांे ने हिस्सा लिया है।

Girl friend से छेड़छाड़ की विरोध किया तो चाकू मारा देश को देंगे मजबूत सरकारः नरेन्द्र मोदी
लखनऊ के वाटर पार्क में छात्रा से छेड़छाड़, हमला यूपी में बूथ कैप्चरिंग रोकने में आयोग नाकामः मोदी
Leaders की love story एण्ड social media का आइना ओएसडी ने छोड़ा साथ live-in-relationship में आय तिवारी
रुद्रप्रयागः आज खुलेंगे केदारनाथ धाम के कपाट रामदेव योग से अब शादी, हनीमून और मैरीज बयूरो का....
Digvijay ने Amrita से relationship स्वीकारी Extra-marital relationship:दिग्विजय सिंह को हो सकती है सजा

News source: UP Samachar Sewa

News & Article:  Comments on this upsamacharsewa@gmail.com  

 
 
 
                               
 
»
Home  
»
About Us  
»
Matermony  
»
Tour & Travels  
»
Contact Us  
 
»
News & Current Affairs  
»
Career  
»
Arts Gallery  
»
Books  
»
Feedback  
 
»
Sports  
»
Find Job  
»
Astrology  
»
Shopping  
»
News Letter  
up-webnews | Best viewed in 1024*768 pixel resolution with IE 6.0 or above. | Disclaimer | Powered by : omni-NET